एक सरदार कि मौत बिजली गिरने से हुई…पर उसकी लाश मुस्कुराते हुए मिली | यमराज ने सरदार से पूछा:- ऐसा क्यूँ ? सरदार बोला:- मुझे लगा कोई फोटो खींच रहा है |

संता कि माँ बीमार हो गई संता उन्हें लेकर अस्पताल गया डॉक्टर ने देखने के बाद कहा “इनका कुछ टेस्ट होगा” संता:- हे भगवान अब क्या होगा, मेरी माँ तो अनपढ़ है |

सरदार: यार इसका मतलब क्या होता है? आई ऍम गोइंग ? दोस्त: मै जा रहा हूं… सरदार: साले, ऐसे कैसे जायेगा, २० और भी सुबहा से जा चुके हैं… आंसर बता के जा…

संता और बंता एक डॉक्टर के पास जाते हैं… डॉक्टर पर्चे पे दवाइयों के नाम लिखता है… पर लिखावट कि वजह से संता को कुछ समझ में नही आता | संता, बंता से– डॉक्टर ने पर्चे पे क्या लिखा है ? बंता– यही कि मैंने तो लुट लिया है अब तु भी लुट ले…

सरदार का पडोसी मर गया : वो उसके घर गया और पूछने लगा : बॉडी आ गई क्या ? तभी बॉडी लेकर एम्बुलेंस आ गयी… सरदार : लो बताओ…कितनी लम्बी उम्र है |

टीचर : तुम इतनी देर से क्यों आए हो ? बच्चा : मम्मी पापा लड़ रहे थे… टीचर : वो लड़ रहे थे तो तुम क्यों देर से आए ? बच्चा : मेरा एक जूता मम्मी के पास और दूसरा पापा के पास था…

एक अनपढ़ लड़की कि शादी कुछ ज्यादा ही पढ़े-लिखे लड़के से हो गई | एक दिन लड़की ने बेहद लज़ीज़ खाना बनाया, पति बड़े चाव से खा रहा था कि तभी एक निवाला उसके गले में अटक गया | वह खांसते-खांसते मर गया | पत्नी रोते-रोते बोली,,, . . . . हाय ये क्या हो…

सिंधी: पठान भाई तुम बाजार जा रहे हो तो मेरे लिए एक शीशा लेकर आना, जिसमे मै  अपना चेहरा देख सकूँ | पठान: ठीक है | पठान के बाज़ार से वापस आने के बाद, सिंधी: भाई,ले आये शीशा? पठान: नहीं भाई मिला ही नहीं, जो भी शीशा मै उठाता था उसमे मेरा ही चेहरा दिखाई…

बैंक मैनेजर: यह क्या अजीब सिग्नेचर है? संता: ये साइन मेरी दादी का है सर! बैंक मैनेजर: ऐसा क्या अजीब नाम है उनका? संता: जलेबी बाई!